North India Times

- Advertisement -

धूमल की टीम निकम्मी, फेसबुक तक सीमित रहा मिशन रिपीट

dhumal_sadशिमला: हिमाचल में कांग्रेस को बहुमत क्या मिला फेसबुक वाले भाजपाई कहीं गायब ही हो गए| नतीजे आने तक कभी मिशन रिपीट तो कभी कांग्रेस को खांग्रेसी कहने वाले जुमले , सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और दूसरे नेताओं के कार्टून और मरने -जीने के जज्बाती जुमले भी गायब हो गये|

जाहिर है जो लोग धरती पर ( ग्रासरूट) नही थे वो वर्चुयल दुनिया में ही रह कर अपनी खीज निकल रहे थे| ऐसा ही कुछ मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल के साथ भी हुआ| नरेंद्र बरागटा ,खिमी राम शर्मा, रमेश चन्द ध्वाला, किशन कपूर और सुखराम सभी ने अपने-अपने चुनाव क्षत्रों में काम किया होता और मतदाताओं के दुख-दर्द को जाना होता तो आज ये दिन ना देखना पड़ता | इन लोगों समेत हारने वाले दूसरे लोगों को भी ग़लतफहमी हो गई थी की अब तो मिशन रिपीट , जो मजाज़ फेसबुक ही बन कर रह गया था, हो रहा है और अपनी ही सरकार बनाने वाली है फिर मेहनत करने की ज़रूरत क्या है|

वरना ऐसा नही की भाजपा ने विकास कार्य न किए हों | मुख्यमंत्री धूमल खुद भले ही अपनी सरकार रिपीट करने के लिए कितने ही फ़िकरमंद क्यों ना रहे हों लेकिन उनकी टीम इतनी बफ़ादार नही निकली | टिकटों के ग़लत आबंटन, राजनीतिक शक्तियों के विकेंद्रीकरण और खेमेबाजी ने पार्टी को डूबा कर ही दम लिया |

धूमल साहब की मेहनत बेकार चली गई | कुछ लोगों के कारण विकास के दावे भी हवा हो गये| अब तो पाँच साल का समय है जब पार्टी दोबारा सत्ता मे लौटने का सपना देख सकती है| कुल मिला कर कांग्रेस ने भाजपा के मिशन रिपीट को मिशन डिलीट कर दिया | जिन मुद्दों पर चुनाव जीते जा सकते थे उनको कांग्रेस ने छीन कर इस्तेमाल किया और सरकार बना ली |

mission repeat, Facebook, Prem Kumar Dhumal, BJP, Congress,elections, Himachal Pradesh

Leave A Reply

Your email address will not be published.