यमुनानगर रेलवे स्टेशन पर 5 साल साल की मासूम के साथ हैवानियत !

  • हरियाणा के रेलवे स्टेशन भी महिलाओं के लिए सुरक्षित नही
  • माता पिता के साथ रेलवे स्टेशन की प्लेटफार्म पर सो रही थी मासूम
  • आरोपी ने सोती हुई बेटी को उठा कर दूसरे प्लेटफार्म पर जाकर किया बलात्कार
  • अभी तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

हरियाणा में बलात्कार की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है ।राज्य के बलात्कारी जानवरों और मासूम बच्चियों पर भी रहम नहीं खाते।

राज्य के यमुनानगर रेलवे स्टेशन पर एक 5 साल की मासूम के साथ हैवानियत का मामला सामने आया है। यह बेटी शनिवार -इतवार की रात अपने मजदूर माता -पिता के साथ यमुनानगर के रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर सो रही थी।

रात के 12 बजे जब अचानक मां की नींद टूटी तो बच्ची गायब थी। मां ने पति को जगा कर बच्ची को ढूंढना शुरू किया तो वह साथ ही के प्लेटफार्म नंबर दो पर लहूलुहान हालत में मिली।

माता -पिता बच्ची को यमुना नगर के सरकारी अस्पताल में लेकर गए जहां उसकी हालत जान पर खतरा मंडरा रहा है।

उधर प्लेटफॉर्म से बच्ची का अपहरण करके उसके साथ हैवानियत करने वाले आरोपी की अभी तक पहचान नहीं हो पाई है ।

पुलिस रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है और 4 लोगों चार संदिग्धों को हिरासत में भी लिया है ।

असली गुनहगार पुलिस की पकड़ से बाहर

5 साल की मासूम के साथ दरिंदगी करने वाला दरिंदा अभी जीआरपी की पकड़ से बाहर है ।अभी तक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है।

बच्ची को सुरक्षा देने में नाकाम रेलवे पुलिस के खिलाफ कार्रवाई हो !

बड़ा सवाल यह है कि रेलवे प्लेटफार्म की सुरक्षा में तैनात जीआरपी के लोग आखिर कर क्या रहे थे क्या रेलवे प्रशासन उन्मुक्त चोरों के खिलाफ कोई कार्रवाई करेगा। आखिर रेलवे स्टेशन की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है ? रेल मंत्री पीयूष गोयल को इसका जवाब देना होगा।

Comments are closed.