North India Times

घुमारवीं के भगेड़ मतदान केंद्र में तैनात सभी कर्मचारी निलंबित

कर्मचारियों ने मतदान से एक दिन ही पहले ही ईवीएम का ट्रायल कर डाला

पोलिंग पार्टी ने मतदान केंद्र पर पहुंचते ही ईवीएम की सील तोड़कर इन्हें टेस्टिंग के लिए चला दिया था। चुनाव आयोग ने पूरी टीम पर कार्रवाई करते हुए नोटिस जारी किया था और 12 घंटे में जवाब मांगा था। इसके साथ ही चुनाव करवाने के लिए केंद्र पर नया दल भेज दिया गया था।

चुनाव आयोग ने  ईवीएम मशीन को ले कर लापरवाही बरतने वाले हिमाचल प्रदेश के घुमारवीं उपमंडल में भगेड़  मतदान केंद्र पर तैनात सभी कर्मचारियों को निलंबित कर दिया गया है।

दरअसल चुनाव ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों ने मतदान से एक दिन ही पहले यानी शनिवार को ही ईवीएम का ट्रायल कर डाला। जबकि चुनाव आयोग के नियमानुसार ईवीएम को मतदान के वक्त ही खोलकर टेस्ट किए जाने का प्रावधान है। आयोग ने केंद्र पर तैनात सभी कर्मियों के निलंबन के आदेश जारी कर दिए हैं।

पोलिंग पार्टी ने मतदान केंद्र पर पहुंचते ही ईवीएम की सील तोड़कर इन्हें टेस्टिंग के लिए चला दिया था। चुनाव आयोग ने पूरी टीम पर कार्रवाई करते हुए नोटिस जारी किया था और 12 घंटे में जवाब मांगा था। इसके साथ ही चुनाव करवाने के लिए केंद्र पर नया दल भेज दिया गया था। इस पूरे मामले की जानकारी सेक्टर अधिकारी ने एसडीएम घुमारवीं को दी। छानबीन के बाद कार्रवाई करते हुए पूरे दल को मतदान केंद्र से हटा दिया गया।

वहीं दूसरी ओर कुल्लू जिले के ढालपुर आदर्श मतदान केंद्र में पोलिंग ड्यूटी पर लगे कर्मचारियों और अधिकारियों ने मॉक पोल को हटाए बिना ही पोलिंग शुरू करवा दी। जानकारी मिलने पर जिला निर्वाचन अधिकारी यूनुस ने कार्रवाई करते हुए यहां तैनात पीठासीन अधिकारी को हटा दिया। वहां ईवीएम में मौजूद 50 मॉक पोल्स को नहीं हटाया गया था।

Comments are closed.