गडकरी के प्रचार के खिलाफ थे खुद की पार्टी के नेता !

शिमला: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी अपने हिमाचल चुनाव प्रचार को बीच में छोड़ने के लिए भले ही कितने बहाने गढ़ें लेकि सच्चाई ये है की पार्टी के कुछ नेता ही नही चाहते थे की वह हिमाचल मे प्रचार करें |

पार्टी सूत्रों के मुताबिक खुद भ्रस्टाचार के आरोप झेल रहे गडकरी न केवल पार्टी के लिए एक ज़िम्मेवारी बन गये थे बल्कि उनकी वजह से पार्टी को नुकसान हो रहा था| एक तरफ पार्टी ने वीरभद्र सिंह के खिलाफ भ्रस्टाचार विरोधी अभियान छेड़ रखा है लेकिन जब भाजपा का अपना ही अध्यक्ष भ्रस्टाचार के आरोप झेल रहा हो तो फिर दूसरों पर आक्रमण कैसे कर सकता है|

नीतिन गडकरी पर लगे आरोपों से अगर किसी को सबसे ज़्यादा फ़ायदा पहुँचा है तो वह है वीरभद्र सिंह | Nitin Gadkari, BJP,Himachal Pradesh

Leave A Reply

Your email address will not be published.