North India Times

घर -घर जा कर कैप्टन सरकार की नाकामी बताएगी आम आदमी पार्टी

भगवंत मान बताते हैं कि डोर-टू-डोर आम आदमी पार्टी का सबसे मजबूत चुनावी हथियार है

13 लोकसभा सीटों पर चरणबद्ध तरीके से वालेंटियर्स को उतारने की प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया जा रहा है। वालेंटियर्स की ये फौज घर-घर जाकर बताएगी कि पंजाब की मौजूदा कैप्टन सरकार, पिछली बादल सरकार से बिल्कुल भी अलग नहीं है। पंजाब को बदहाली से निकालने के लिए कैप्टन को लोगों ने वोट दिया था लेकिन उन्होंने पंजाब के लोगों के साथ धोखा किया है।

आम आदमी पार्टी अपनी बात लोगों तक पहुंचाने के लिए पंजाब में घर-घर दस्तक देने जा रही है। इसके लिए आम आदमी पार्टी 1 लाख वालेंटियर्स को मैदान में उतारेगी।

पार्टी के अध्यक्ष व संसद मैंबर भगवंत मान कहते हैं कि सभी 13 लोकसभा सीटों पर चरणबद्ध तरीके से वालेंटियर्स को उतारने की प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया जा रहा है। वालेंटियर्स की ये फौज घर-घर जाकर बताएगी कि पंजाब की मौजूदा कैप्टन सरकार, पिछली बादल सरकार से बिल्कुल भी अलग नहीं है। पंजाब को बदहाली से निकालने के लिए कैप्टन को लोगों ने वोट दिया था लेकिन उन्होंने पंजाब के लोगों के साथ धोखा किया है।

भगवंत मान बताते हैं कि डोर-टू-डोर आम आदमी पार्टी का सबसे मजबूत चुनावी हथियार है। इसी के दम पर हम दिल्ली में 70 में से 67 सीटें जीतने में कामयाब हुए। इस कैंपेन की सबसे खास बात ये होती है कि मतदाताओं के पास जाकर वालेंटियर्स अपनी बात रखते हैं और उनके दुख-दर्द भी सुनते हैं। इस पूरे कैंपेन के बारे में बताते हुए
भगवंत मान कहते हैं कि वालेंटियर्स को डोर-टू-डोर के लिए ट्रेनिंग दी जा रही है।

इस ट्रेनिंग में उन्हें बताया जा रहा है कि किस तरह उन्हें धैर्य पूर्वक मतदाताओं के दुख-दर्द को सुनना है और किस तरह अपनी बातें उनके सामने रखनी हैं। वालेंटियर्स को डोर-टू-डोर की ट्रेनिंग में बताया जा रहा है कि उन्हें किस तरह से लोगों को बताना है कि दिल्ली में केजरीवाल ने 1 रुपये प्रति यूनिट बिजली कर दी, वहां के लोगों को 24 घंटे बिजली मिलती है, लेकिन पंजाब में पूर्ण राज्य होने के बावजूद कैप्टन साहिब नहीं कर रहे हैं। डोर-टू-डोर कैंपेन के जरिये वालेंटियर्स पंजाब के लोगों को दिल्ली की शिक्षा क्रांति के बारे में भी बताएंगे। वालेंटियर्स को कुछ वीडियोज और फोटोग्राफ्स भी दिये जा रहे हैं। इनके जरिये वो बताएंगे कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में सरकारी स्कूलों और सरकारी अस्पतालों की तस्वीर बदल दी है।

आम आदमी पार्टी अपने वालेंटियर्स को ऐसे दस्तावेजों से लैस करके लोगों के पास भेजेगी जिसके जरिये वो बता सकेंगे कि दिल्ली में अरविंद केजरीवाल ने किसानों के लिए स्वामीनाथन आयोग लागू कर दिया है। अब दिल्ली में किसानों को गेहूं के 2,616 रुपये प्रति क्विंटल और धान के 2,667 रुपये मिलेंगे। साथ ही अखबारों की क्लिपिंग्स और टीवी चैनलों की फुटेज के जरिये लोगों को ये भी बताया जाएगा कि किस तरह पंजाब में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं और कैप्टन सरकार उनके प्रति पूरी तरह से असंवेदनशील है।

आम आदमी पार्टी के वालेंटियर्स लोगों से ये भी कहेंगे कि पंजाब की भलाई के लिए इस चुनाव में आम आदमी पार्टी को वोट दीजिए क्योंकि सत्ता पाते ही कैप्टन साहब सारे वादे भूल गये। अगर पंजाब के लोगों को उनसे काम करवाने हैं तो लोकसभा चुनाव में उनको सबक सिखाना जरूरी है। अगर कैप्टन साहिब को लोकसभा चुनाव में झटका लगेगा तभी उनको समझ में आएगा कि पंजाब के लोग उनसे नाराज हैं और इसके बाद वह पंजाब के लोगों के काम करने की तरफ ध्यान देंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.