चंडीगढ़ की ग़रीब बस्तियों के बच्चों ने बाँधा समा !

0
54
  • चंडीगढ़ में डॉन बॉस्को नवजीवन सोसाइटी का वार्षिक समारोह
  • समारोह में शहर को बच्चों के अनुरूप बनाने पर चर्चा
  • चंडीगढ़ की ग़रीब बस्तियों के बचों ने बाँधा समा

img-20181002-wa0079

डॉन बॉस्को नवजीवन सोसाइटी ने 2 अक्टूबर को अपना वार्षिक महोत्सव जिसका थीम “बाल मित्रतापूर्ण चंडीगढ़ बनाना” था. महोत्सव के दौरान चंडीगढ़ शहर को बच्चों के अनुकूल शहर बनाने पर चर्चा हुई।

इस अवसर पर डॉन बोस्को ने एक थीम आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किया जिसमें विभिन्न कालोनियों के बच्चे शामिल हुए| बच्चों द्वारा प्रस्तुत कार्यक्रमों में न केवल उनकी प्रतिभा बल्कि कई दिनों की मेहनत भी नज़र आई|

सालाना दिवस के बारे में बोलते हुए फादर रेजी टॉम, डॉन बोस्को नवजीवन सोसाइटी ने कहा कि “बच्चे इस देश का भविष्य हैं और वयस्कों के रूप में हम अपनी शिक्षा, स्वास्थ्य, भागीदारी, सुरक्षा और मनोरंजन सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने आगे बताया कि एक चाइल्ड फ्रेंडली सिटी का जो सपना संजोया है उसके लिए काम करने के लिए हर संभव प्रयास होगा। ”

संस्था ने ऐसे व्यक्तियों और संगठनों को सम्मानित किया जिन्होंने चंडीगढ़ को बाल मित्रतापूर्ण शहर बनाने में बहुत योगदान दिया है। पुरस्कार 4 श्रेणियों में दिए गए थे: श्रेणियों में सर्वश्रेष्ठ संस्थान पुरस्कार (निजी और सरकारी) और सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत पुरस्कार (निजी और सरकारी) शामिल थे।