बेरोज़गारों को हर महीने एक हज़ार रुपये भत्ता देगी कांग्रेस !

शिमला में कांग्रेस पार्टी का घोषणा पत्र जारी करते नेता

शिमला: शुक्रवार को शिमला में जारी किए अपने चुनाव घोषणा पत्र में कांग्रेस ने बेरोज़गार युवाओं को लुभाने की भरपूर  कोशिश की है| अगर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनती है तो दस जमा दो से ले कर स्नातक बरोजगारों, जिनके परिवार की सालाना आमदन  दो लाख रुपये से कम है को हर महीने एक हज़ार रुपये तक भत्ता दिया जाएगा| जो लोग शारीरिक रूप से अक्षम हैं उनको पंद्रह सौ रुपये मिलेंगे |

दरअसल पाँच साल विपक्ष में बैठने की सज़ा काट चुकी कांग्रेस अब युवा मतदाताओं को सीढ़ी बना कर सत्ता सुख भोगने का रास्ता बना रही है | प्रदेश में 3० वर्ष से कम आयु के  11.37 लाख मतदाता हैं जिनमे से ज़्यादातर बेरोज़गार हैं | इनमे से 18-19 वर्ष आयु वर्ग के 1.4 लाख मतदाता तो अबकी बार पहली बार मतदान करेंगे |

छातों को लाभ पहुचाने के लिए राजीव गाँधी डिजिटल स्टूडेंट योजना शुरू की जाएगी जिसके तहत दसवीं और जमा दो के दस हज़ार टॉपर  छात्रों को मुफ़त लैपटाप बाँटे जाएँगे | हर स्कूल में आठवीं कक्षा में पहला स्थान पाने वाले छात्रों को सीखने वाला लैपटाप दिया जाएगा |

कांग्रेस ५०० करोड़ रुपये की पूंजी लगा कर एक हुनर विकास निगम की स्थापना करेगी जो बरोजगारी कम करने की दिशा में काम करेगा| इसके अलावा पार्टी की सरकार उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए चार फीसदी ब्याज की दर से लोन उपलब्ध करवाएगी |

मज़े की बात ये है की कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में घरेलू कुकिंग गैस के सस्ते सिलेंडर देने का कोई वायदा नही किया है | लेकिन दिहाड़ी 200 रुपये तक बढ़ाने और सामाजिक सुरक्षा पेंशन 450 से 600 रुपये तक बढाने की बात की है | पार्टी ने प्रदेश के बागवानों को लुभाने की भी कोशिस की है | बागवानों के हित सुरक्षित रखने के लिए विदेशों से आने वाले सेब पर ज़्यादा कर लगाया जाएगा |

खैर दिल्ली अभी दूर है और चुनाव जितना अभी बाकी है मेरे दोस्त | भाजपा ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को कभी ना पूरा होने वाला सपना करार दिया है | भाजपा २२ अक्तूबर को अपना घोषणा पत्र जारी करेगी | लोगों की नज़रें अब इस घोषणा पत्र पर टिकी हैं| देखते हैं भाजपा मतदाताओं को कैसे लुभाती है |

Congress,Himachal Pradesh, India, election manifesto,laptops, toppers, 10+2, allowance , unemployed,BJP

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.