मैं फ्रस्टरेटेड था और लोगों को गिला था इसलिए लौटा कांग्रेस में:मनकोटिया !

0
629

शिमला: शाहपुर के पूर्व विधायक और पूर्व पर्यटन मंत्री मेजर विजह सिंह मनकोटिया ने कहा है कि वह पिछले पाँच वर्षों से एक एकाकी जीवन बिता रहे थे और एक तरहा से फ्रस्टरेटेड इंसान बन गये थे| उधर उन पर उनके समर्थकों का जबरदस्त दबाव था की वह फिर से सक्रिय राजनीति में लौटें ,इसलिए उन्होंने फिर से कांग्रेस में लौटने का फ़ैसला लिया|

दिल्ली से फ़ोन पर नॉर्थ इंडिया टाइम्स से बात करते हुए मनकोटिया ने कहा की कुछ दिन पहले उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष वीरभद्र सिंह का फ़ोन आया था की उन्होने सभी गीले-शिकवे दफ़ना दिए हैं और अगर आप बात करने के लिए तैयार हैं तो आगे कदम बढ़ाएँ मैने अपना कदम बढ़ा दिया है |

“मुझे पहले तो शन्शय था लेकिन बाद में मैने भी बात ख़त्म करने की सोची और फिर वीरभद्र सिंह से  मिला| आख़िर मैं कांग्रेस का प्रोडक्ट हूँ| हालाँकि मैने उन्हे कह दिया है की मुझ से ज़्यादा की उमीद ना करें क्योकि देर काफ़ी हो चुकी है इसलिए अब जो कुछ भी बन पड़ेगा मैं वो करूँगा ,” विजह सिंह मनकोटिया ने कहा |

विजय सिह मनकोटिया ने कहा कि वह कांग्रेस के बागी ज़रूर हैं लेकिन आज भी पार्टी ले लिए उनके मान मे जगह है | उन्होने कहा की वह २५ सालों तक शाहपुर की जनता से जुड़े रहे हैं और उनके समर्थकों की माँग थी की वह फिर से मुख्यधारा से जुड़ कर अपने क्षेत्र का विकास करें |

“भाजपा ने पिछले 5 वर्षो से शाहपुर सहित पूरे कांगड़ा जिला को नज़रअंदाज किया है और शाहपुर क्षेत्र मे सभी विकास कार्य रुक गये हैं | जनता के कुछ करना चाहता हूँ फिर से,” विजय सिह मनकोटिया ने कहा |

दरअसल वीरभद्र सिंह यूँ ही मनकोटिया को गले नही लगाने वाले थे| वह जानते है की अगर मनकोटिया की कांगेस में  वापसी हो जाएतो कांगड़ा का राजपूत समुदाय और पूर सैनिकों के परिवारों के वोट कांग्रेस की झोली में आ सकते हैं | मनकोटिया खुद भी राजनीति की दूसरी पारी खेलना चाहते थे सो कड़ी जुड़ गई और कांग्रेस ने मजबूती की ओर एक कदम बढ़ा दिया |

English Tags: Vijay Singh Mankotia,Shahpur,Himachal Pradesh , Kangra,Virbhadra Singh,BSP, BJP

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here