North India Times

धारा 370 जवाहर लाल नेहरू का बोया बीज:अनिल विज

– पत्थरबाज आतंकवाद की नर्सरी, आतंकवादियों की तरह करना चाहिए डील
– कांग्रेस को दिन दुगना रात चौगुना धन बढ़ाने के आते हैं फार्मूले
 धारा 370 वो धारा है जिसने आज तक कश्मीर को हिंदुस्तान के साथ ठीक ढंग से जुड़ने तक नहीं दिया | यह देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के बोए हुए बीज हैं जिसे आज कांग्रेस पुनः हवा और पानी देकर बड़ा करना चाहती है। यह बात हरियाणा प्रदेश के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने पत्रकारों द्वारा पूछे गए प्रश्न का जवाब देते हुए कही।

मंत्री अनिल विज ने महबूबा मुफ्ती के यह बोलने पर कि अगर धारा 370 हटा दी गई तो भारत मिट जाएगा पर पलटवार करते हुए कहा कि हिंदुस्तान को मिटाने वाला आज तक ऐसा कोई भी पैदा नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि देश के खिलाफ ऐसे बयान देने वाले लोग खुद ही मिट जाएंगे, चाहे फिर वो महबूबा मुफ्ती हो या फारूख अबदुल्ला हो। विज ने कहा कि ये जो धारा 370 खत्म न होने देने की बात कर रहे हैं ये कांग्रेस की शह पर कर रहे हैं क्योंकि कांग्रेस ने कहा है कि वो धारा 370 बरकरार रखेंगे और भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि हम इसे समाप्त कर देंगे। अब यह फैसला जनता को करना है कि जनता क्या चाहती है।

कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने कांग्रेस के पत्थरबाजों को भी भत्ता देने की बात पर टिप्पणी करते हुए कहा कि ये जो पत्थरबाज हैं ये आतंकवादियों की नर्सरी हैं। उन्होंने कहा कि इन्हीं मे से कल को आतंकवादी बन सकते हैं। इसलिए इसे आंतकवाद का प्राइमरी स्कूल मान लिया जाए। विज ने कहा कि इनके साथ वैसे ही डील करना चाहिए जैसे आतंकवादियों के साथ डील किया जाता है। आतंकवादियों को किसी भी प्रकार की ढील नहीं दी जा सकती। अनिल विज ने महबूबा मुफ्ती और फारूख अबदुल्ला की देश विरोधी बयानों पर तंज कसते हुए कहा कि ये जो अलगाववाद का पाठ पढ़ा रहे हैं वो अब और ज्यादा दिन नहीं चलेगा।
मंत्री अनिल विज ने दीपेंद्र हुडा की संपत्ति बढ़ कर 450 प्रतिशत और श्रुति चौधरी की 548 प्रतिशत होने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस को धन कैसे दिन दुगुना और रात चौगुना बढ़ाना है इसके फार्मूले आते हैं इसलिए ये चौकीदार को लेकर बार-बार शोर मचा रहे हैं। विज ने कहा कि चौकीदार की चिंता तो उसी को होता है जो चोर होते हैं और जिन्हें इस प्रकार से धन बढ़ाने आते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को ये उजागर करना चाहिए कि उनके पास धन बढ़ाने के ऐसे कौन से फार्मूले हैं।

Comments are closed.