North India Times

- Advertisement -

109 घंटे बाद बाहर आया फतेहवीर,PGI में मौत

रेस्क्यू में देरी के कारण गई मासूम की जान

3 साल के मासूम फतेह वीर को मंगलवार सुबह 5 बजे बोरवेल से बाहर निकाल लिया गया लेकिन लाख कोशिश के बावजूद भी होते वीर की जान नहीं बचाई जा सकी

पंजाब के संगरूर जिला के भगवानपुरा गांव में पिछले 109 घंटों से 9 इंच के बोरवेल में फंसे तीन साल के फतेह वीर को 11जून 2019 को सुबह पांच बजे बाहर निकाल लिया गया।

इस बच्चे को सुनाम से एक एम्बुलेंस के जरिये गंभीर अवस्था में चंडीगढ़ के पीजीआई ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बच्चा पांच रातों से बोरवेल में फंसा रहा और प्रशासन ने उसे बाहर निकालने में 6 दिन का समय लगा दिया ।

बोरवेल में गिरते वक्त बच्चे के सिर पर एक जूट की खाली बोरी भी गिर गई जिसे बोरवेल को ढकने के लिए रखा गया था।

हालाँकी बच्चे को गड्ढे में आक्सीजन दी गई लेकिन खानेपीने को कुछ नही दिया जा सका क्योकी जूट की बोरी ने उसका सिर ढंक लिया था।

बच्चा 6 दिन पहले अपने ही पिता द्वारा अपने खेत में खुदवाए गए एक बोरवेल में गिर गया था जो 28 साल से बंद पड़ा था। बोरवेल की कुल गहराई 150 फ़ीट थी लेकिन बच्चा 125 फ़ीट पर फंस गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.