माँ ने सौतेली बेटी का गेंगरेप करवाया,आँखे निकाली,प्राइवेट पार्ट्स पर डाला तेज़ाब !

0
167

जम्मू के साथ लगते कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत के बाद अब कश्मीर के बारामूला में दिल दहला देने वाली कहानी सामने आई है |

पुलिस के मुताबिक एक सौतेली माँ ने अपनी 9 साल की सौतेली बेटी का पहले उसके सौतेले भाई और उसके तीन साथियों से उसका गेंगरेप करवाया फिर उसकी हत्या करके उसकी आँखें निकलवाई , प्राइवेट पार्ट और छाती पर तेज़ाब डाल कर जलाया और फिर बाद में उसे जंगल में दफ़ना दिया|

मामला 23 अगस्त का है जब बच्ची अचानक घर से गायब हो गई| परेशान पिता ने थाने में शिकायार्ड दर्ज करवाई लेकिन 11 दिनों तक उसका कोई पता नही चला| जॅब पुलिस ने दूसरे लोगों के अलावा सौतेली माँ फ़हमीदा से पूछताछ की तो उसे उसकी भूमिका संदिग्ध लगी | उसकी निशानदेही के बाद पुलिस ने दो सितंबर को उड़ी के एक जंगल से बच्ची की गली-सड़ी लाश बरामद कर ली |

उसके बाद जो हैवानियत भरी रोंगटे खड़े कर देने वाली कहानी सामने आई वह इस प्रकार है :

पुलिस पूछताछ में सामने आया की बच्ची के साथ हुई हैवानियत के पीछे उसकी खुद की सौतेली माँ फ़हमीदा थी | जब पुलिस ने सौतेली मां फ़हमीदा को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया तो उसने सारी सच्चाई उगल दी |

आरोपी महिला ने पुलिस को बताया की उसके पति की पहले एक पत्नी और बच्चे हैं| उसके ज़ुल्म की शिकार हुई बच्ची भी पहली पत्नी की है जिससे सौतेली माँ को जलन होती थी क्योंकि पति पहली पत्नी और बच्ची को ज़्यादा समय देता था|

फ़हमीदा ने 23 अगस्त को पहले बच्ची को चाकू की नोक पर अगवा किया और फिर योजना के मुताबिक उसके बेटे ( सौतेले भाई) नसीर अहमद ने अपने दो साथियों के साथ मिल कर पहले बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया | उसके बाद फ़हमीदा ने बच्ची का गला घोंट कर उसे मार दिया| नसीर ने कुल्हाड़ी इसे बच्ची की गर्दन काटी और फिर चाकू से उसकी आँखें निकाल ली| फिर तेज़ाब डाल कर बच्ची के प्राइवेट पार्ट और छाती जलाई और उसे गढ्ढा खोद कर दफ़न कर लिया|

पुलिस ने सौतेली माँ फ़हमीदा , उसके बेटे नसीर और तीन दूसरे आरोपियों की गिरफ्तार कर लिया है |