North India Times

माँ ने सौतेली बेटी का गेंगरेप करवाया,आँखे निकाली,प्राइवेट पार्ट्स पर डाला तेज़ाब !

पुलिस ने सौतेली माँ फ़हमीदा , उसके बेटे नसीर और तीन दूसरे आरोपियों की गिरफ्तार किया

जम्मू के साथ लगते कठुआ में आठ साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियत के बाद अब कश्मीर के बारामूला में दिल दहला देने वाली कहानी सामने आई है |

पुलिस के मुताबिक एक सौतेली माँ ने अपनी 9 साल की सौतेली बेटी का पहले उसके सौतेले भाई और उसके तीन साथियों से उसका गेंगरेप करवाया फिर उसकी हत्या करके उसकी आँखें निकलवाई , प्राइवेट पार्ट और छाती पर तेज़ाब डाल कर जलाया और फिर बाद में उसे जंगल में दफ़ना दिया|

मामला 23 अगस्त का है जब बच्ची अचानक घर से गायब हो गई| परेशान पिता ने थाने में शिकायार्ड दर्ज करवाई लेकिन 11 दिनों तक उसका कोई पता नही चला| जॅब पुलिस ने दूसरे लोगों के अलावा सौतेली माँ फ़हमीदा से पूछताछ की तो उसे उसकी भूमिका संदिग्ध लगी | उसकी निशानदेही के बाद पुलिस ने दो सितंबर को उड़ी के एक जंगल से बच्ची की गली-सड़ी लाश बरामद कर ली |

उसके बाद जो हैवानियत भरी रोंगटे खड़े कर देने वाली कहानी सामने आई वह इस प्रकार है :

पुलिस पूछताछ में सामने आया की बच्ची के साथ हुई हैवानियत के पीछे उसकी खुद की सौतेली माँ फ़हमीदा थी | जब पुलिस ने सौतेली मां फ़हमीदा को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया तो उसने सारी सच्चाई उगल दी |

आरोपी महिला ने पुलिस को बताया की उसके पति की पहले एक पत्नी और बच्चे हैं| उसके ज़ुल्म की शिकार हुई बच्ची भी पहली पत्नी की है जिससे सौतेली माँ को जलन होती थी क्योंकि पति पहली पत्नी और बच्ची को ज़्यादा समय देता था|

फ़हमीदा ने 23 अगस्त को पहले बच्ची को चाकू की नोक पर अगवा किया और फिर योजना के मुताबिक उसके बेटे ( सौतेले भाई) नसीर अहमद ने अपने दो साथियों के साथ मिल कर पहले बच्ची के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया | उसके बाद फ़हमीदा ने बच्ची का गला घोंट कर उसे मार दिया| नसीर ने कुल्हाड़ी इसे बच्ची की गर्दन काटी और फिर चाकू से उसकी आँखें निकाल ली| फिर तेज़ाब डाल कर बच्ची के प्राइवेट पार्ट और छाती जलाई और उसे गढ्ढा खोद कर दफ़न कर लिया|

पुलिस ने सौतेली माँ फ़हमीदा , उसके बेटे नसीर और तीन दूसरे आरोपियों की गिरफ्तार कर लिया है |

Comments are closed.